News Update !

#सोलर_एनर्जी_सेमिनार_आज_चेम्बर_भवन_सायँ_430_बजे व्यवसाय एवम उधोगो प्रतिदिन बढ़ती हुई ऊर्जा खपत एवं द्रुतगति से बढ़ते बिजली के दामों को ध्यान में रखते हुए सोलर एनर्जी पर चेम्बर द्वारा आयोजित एक बड़ा सेमीनार आज सोलर एनर्जी सेमीनार आप सभी आमंत्रित है आज सायँ 4.30 बजे श्रीमंत माधवराव सिंधिया सभागार चेम्बर भवन* मुख्य अतिथि एवं विशेषज्ञ श्री योगेश कुमार सिंह जी (वरिष्ठ अनुसंधान वैज्ञानिक नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ सोलर एनर्जी, गुरुग्राम) विषय होंगे *क्या होती है सोलर टेक्नोलॉजी ? *सोलर का कैसे करे उपयोग ? *कितने हैं उत्पाद के प्रकार ? *कहाँ हो सकता है उपयोग ? *क्या व्यापार एवं उद्योगों में भी हो सकता है उपयोग ? *कैसे बन सकता है, रोजगार का साधन ? *घरेलू रोजगार में कैसे है उपयोगी ? आदि विषय पर होगा संबोधन सेमीनार में होगा 30 मिनिट का पावर पॉइन्ट प्रेजेन्टेशन होगा *आपकी सभी जिज्ञासाओं का समाधान कृपया सुअवसर का लाभ उठाएं और समय पूर्व पधारकर स्थान ग्रहण करे

आयकर रिटर्न फाइल करने की अंतिम तिथि को तीन माह बढ़ाकर, 31 अक्टूबर किया जाए ः चेम्बर ऑफ कॉमर्स केन्द्रीय वित्त मंत्री, भारत सरकार को चेम्बर ने लिखा पत्र आयकर विभाग, भारत सरकार द्वारा आयकर रिटर्न फाइल करने की अंतिम तिथि दिनांक 31 जुलाई,18 वर्तमान में निर्धारित है । चेम्बर ऑफ कॉमर्स द्वारा उक्त तिथि को तीन माह आगे बढ़ाकर 31 अक्टूबर,18 किए जाने की माँग माननीय केन्द्रीय वित्तमंत्री जी से की है क्योंकि दिनांक 31 जुलाई के पश्‍चात् आयकर विवरणी दाखिल करने पर रु. 1,000/- एवं 5,000/- विलम्ब शुल्क के रूप में देय होगा उल्लेखनीय है कि विगत् कुछ माह से आयकर विभाग की वेबसाइड में ई-फाइलिंग पोर्टल में लगातार आयकर विवरणी से संबंधित अपग्रेडेशन के चलते आ रही समस्या के कारण, देशभर के हजारों करदाता अपनी विवरणी अभी तक जमा नहीं कर सकें हैं चेम्बर द्वारा केन्द्रीय वित्तमंत्री-श्री पीयूष गोयल जी को प्रेषित किए गए पत्र में उल्लेख किया गया है कि देश में नवीन कर प्रणाली जीएसटी को लागू हुए अभी एक ही वर्ष हुआ है और इसे अभी तक व्यवसाईगण ठीक प्रकार से समझ ही नहीं सके हैं । माह जुलाई में आयकर विवरणी जमा करने की अंतिम तिथि के अतिरिक्त, जीएसटी के अन्तर्गत जीएसटी आर-1 दाखिल करने की (रु. 1.50 करोड़ से अधिक टर्नओवर वाले व्यापारियों हेतु) अंतिम तिथि 10 जुलाई ,जीएसटी आर-3 बी (जून तिमाही का कर जमाकरनेकी तारीख) दाखिल करने की अंतिम तिथि, 20 जुलाई ,जीएसटी आर-4 (कम्पोजिशन स्कीमके अन्तर्गत व्यापारियों हेतु) अंतिम तिथि 18 जुलाई (घ) जीएसटी आर-1 (1.50 करोड़ से कम टर्नओवर वाले व्यापारियों हेतु) अंतिम तिथि 31 जुलाई निर्धारित है । उपरोक्त सभी रिटर्नकी अंतिम तिथियाँ इसी माह में होने के कारण कर सलाहकार, एडवोकेट एवं सी. ए. पूर्ण रूप से आयकर विवरणियों के लिए समय नहीं दे पा रहे हैं । इसलिए यह आवश्यक है कि आयकर रिटर्न फाइल करने की अंतिम तिथि को कम से कम तीन माह यानि की 31 अक्टूबर,2018 किया जाना अतिआवश्यक है । चेम्बर ऑफ कॉमर्स द्वारा केन्द्रीय वित्तमंत्री जी से स्पष्ट रूप से माँग की गई है कि देश के आयकरदाताओं की उपरोक्त समस्याओं को ध्यान में रखते हुए, आयकर रिटर्न फाइल करने की अंतिम तिथि 31 जुलाई के स्थान पर दि. 31 अक्टूबर,18 की जाए, जिससे कि देशभर के आयकरदाता बगैर किसी अधिभार के अपनी विवरणी आसानी से जमा कर सकें

#कृपयाध्यानदे:- CM की समाधान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के कारण एस पी साहेब के आगमन के समय मे परिवर्तन अब श्री नवनीत भसीन जी चेम्बर 6 बजे पधारेंगे कृपया आज शाम 6 बजे पधारकर कार्यक्रम की गरिमा बढ़ाये

संवाद पुलिस अधीक्षक श्री नवनीत भसीन जी के साथ आइये आज 5 जून 2018 चेम्बर भवन सायँ 5 बजे आइये आप ओर हम करेंगे संवाद रखेंगे शहर की कानून व्यवस्था बिगड़ता यातायात ओर लेनदेन में धोखाधड़ी के साथ ओर भी कई बिन्दुयो पर होगा संवाद आप रहेंगे साथ तो होगा प्रभावी संवाद कृपया प्रमुख विषयो पर चर्चा के लिए निकाले समय और अवश्य पधारे कृपया समय पूर्व पधारकर स्थान ग्रहण करे और कार्यक्रम की गरिमा बढ़ाये निवेदक मप्र चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इंडस्ट्री

#विश्व_पर्यावरण_दिवस_(5 जून 2018) 🌴🌳🌲🌿🌱🍀☘🌿 म प्र चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इंडस्ट्री ओर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड का सयुंक्त कार्यक्रम 🍀 पर्यावरण बचाओ रैली 🌿 प्रातः 7.30 बजे (Sharp) चैम्बर भवन से प्रारम्भ होकर गांधी पार्क फूलबाग पर समाप्त होगी 🌳 कृपया 30 मिनिट अपने शहर को करे समर्पित ओर संदेश दे पर्यावरण को सुरक्षित रखने का 🌲 सभी समाज सेवी ओर व्यावसायिक संघटनो से अपील इस रैली में शामिल होकर अपने संघटन की सहभागिता करे 🌴 इस अपील को अपने नाम या संघटन के नाम से शेयर करे जिससे यह रैली ऐतिहासिक रैली बने ☘ कृपया जरूर पधारे 🌱

मप्र चेम्बर ऑफ कॉमर्स एवम मप्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की सयुंक्त पहल 5 जून विश्व पर्यावरण दिवस पर्यावरण संरक्षण एवम संवर्धन रैली 🌳🌳🌳🌳🌳🌳 प्रारम्भ :- प्रातः7 बजे चेम्बर भवन से रैली का प्रारम्भ:- श्री विवेक नारायण शेजवलकर जी (महापौर) समापन गांधी पार्क फूलबाग मैदान प्रातः 9 बजे मुख्य अतिथि:- श्री नरेन्द्र सिंह जी तोमर (केंद्रीय मंत्री भारत सरकार) विशिष्ट अतिथि:- श्री अशोक वर्मा जी (जिलाधीश ग्वालियर) श्री नवनीत भसीन जी (पुलिस अधीक्षक ग्वालियर) श्री विनोद शर्मा जी (आयुक्त नगर निगम) कृपया अधिक से अधिक संख्या में पधारे ओर प्रदूषण को रोकने की दिशा में अपना संदेश दे निवेदक:- मप्र चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इंडस्ट्री

#बधाईग्वालियर चेम्बर की बहुप्रतीक्षित सपना पूरा अहमदाबाद के लिए ग्वालियर से पहली ट्रेन 3 अक्टूबर से ग्वालियर से रवाना होगी आगरा अहमदाबाद आएगी तीन दिन ग्वालियर चेम्बर की मांग पर ग्वालियर के सांसद और केंद्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह जी तोमर की मौजूदगी रेल राज्य मंत्री श्री मनोज सिंहा जी ने चेम्बर आगमन पर 27 फरवरी 2016 को दिया था आश्वासन चेम्बर ने किया केंद्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह जी तोमर रेलमंत्री श्री पीयूष जी गोयल ओर रेल राज्यमंत्री श्री मनोज सिंहा जी एवम ग्वालियर के कई सामाजिक संगठनों और मीडिया का आभार व्यक्त

मप्र चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इंडस्ट्री 🍀🍀🍀🍀🍀🍀🍀 गौरवशाली 112 वर्ष #स्थापनादिवस हार्दिक शुभकामनाएं 👏🏻👏🏻👏🏻👏🏻👏🏻👏

विद्युत बिलों पर एई व जेई के नंबर प्रकाशित करने के साथ ही डिवीजन स्तर पर कॉल सेंटर स्थापित किए जाएं : चेम्बर विद्युत बिलों पर पूर्व की भांति ए.ई. व जे.ई. के सम्पर्क नंबर प्रकाशित करने तथा डिवीजनवाइज कॉल सेंटर स्थापित करने की मांग आज म.प्र. चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्री द्बारा प्रबंध संचालक तथा मुख्य महाप्रबंधक, ग्वालियर रीजन, म.प्र. मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी से पत्र द्बारा की गई है पूर्व में विद्युत बिलों पर असिस्टेंट इंजीनियर (ए.ई.) व जूनियर इंजीनियर (जे.ई.) के सम्पर्क नंबर प्रकाशित किए जाते थे ताकि विद्युत संबंधी समस्या होने पर उनसे सम्पर्क किया जा सके साथ ही, स्थानीय कॉल सेंटर का भी संचालन किया जाता था ताकि विद्युत अवरोध की स्थिति उत्पन्न होने पर शिकायत की जा सके विद्युत वितरण कंपनी द्बारा एई व जेई के नंबर विद्युत बिलों पर प्रकाशित बंद करने के साथ स्थानीय कॉल सेंटर भी बंद कर दिये गये हैं चेम्बर द्बारा लिखे गये पत्र में उल्लेख किया गया है कि उपरोक्त व्यवस्था के स्थान पर भोपाल स्थित कॉल सेंटर प्रारंभ किया गया है, जिसका दुष्परिणाम यह है कि यदि शहर की लाईट जब गुल हो जाये तब भोपाल स्थित कॉल सेंटर पर कॉल करने पर कॉल तुरंत कनेक्ट नहीं हो पाता है और काफी देर बाद जब कॉल लगता है तो भोपाल स्थित कॉल सेंटर पर बैठे कर्मचारी विद्युत बंद होने का कारण नहीं बता पाते हैं और न ही यह बता पाते हैं कि विद्युत सप्लाई कब चालू होगी वहीं कार्यालयीन समय के उपरांत यदि कोई आगजनी या खम्बे पर आग लग जाए तो उस पर संवाद तुरंत नहीं हो पाता है, जिससे कभी भी कोई बड़ी दुर्घटना घटित हो सकती है उदाहरणस्वरूप विगत दिवस आंधी-पानी आने पर शहर के कई क्षेत्रों में लाईट नहीं थी, जब भोपाल स्थित कॉल सेंटर पर फोन लगाया गया तो करीब आधा घंटा तक फोन नहीं लगा और जब लगा तो कोई संतोषजनक उत्तर प्राप्त नहीं हुआ चेम्बर ने पत्र के माध्यम से मांग की है कि पूर्व की भांति विद्युत बिलों पर ए.ई. व जे.ई. के सम्पर्क नंबर प्रकाशित किए जाएं तथा डिवीजन वाइज कॉल सेंटर स्थापित किए जाएं ताकि विद्युत उपभोक्ताओं की समस्याओं का शीघ्रता से समाधान हो सके

सोन चिड़िया अभ्यारण परिक्षेत्र को कम किए जाने संबंधी अधिसूचना शीघ्र जारी की जाए ः चेम्बर ऑफ कॉमर्स ग्वालियर में स्थापित सोन चिड़िया अभ्यारण के क्षेत्रफल को कम किए जाने हेतु अधिसूचना शीघ्रातिशीघ्र जारी किए जाने की माँग चेम्बर ऑफ कॉमर्स द्वारा केन्द्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्री-डॉ. हर्ष बर्द्धन एवं सचिव, केन्द्रीय पर्यावरण एवं वन विभाग, नई दिल्ली को आज पत्र लिखकर की गई है । पत्र में लिखा है कि सोन चिड़िया अभ्यारण के क्षेत्रफल को कम किए जाने संबंधी निर्णय तत्कालीन केन्द्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्री, स्व. श्री अनिल माधव दबे जी के समय में हो चुका था, परन्तु इस हेतु नोटिफिकेशन अभी तक जारी नहीं होने से ग्वालियर वासियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है । चेम्बर द्वारा आज केन्द्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्री एवं सचिव महोदय को प्रेषित किए गए पत्र में उल्लेख किया गया है कि इस तथाकथित सोन चिड़िया अभ्यारण के कारण ग्वालियर क्षेत्र का विकास लगभग ठप्प पड़ा हुआ है । इस अभ्यारण का क्षेत्रफल वर्तमान में व्यापक स्तर पर होने के कारण यहाँ पर नवीन औद्योगिक निवेश भी संभव नहीं हो पा रहा है । साथ ही, पूर्व से स्थापित गिरवाई औद्योगिक क्षेत्र के उद्यमियों को वन संरक्षक, ग्वालियर द्वारा आए दिन वन्य प्राणी (संरक्षण) अधिनियम 1972 की धारा-18 के अन्तर्गत नोटिस देकर, वैधानिक कार्यवाही की चेतावनी दी जाती है । ग्वालियर के विकास से जुड़ी हुई जब भी किसी योजना की बात सामने आती है, तो सोन चिड़िया अभ्यारण सबसे पहले रुकावट बन जाता है, इसका सबसे बड़ा उदाहरण राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक-3 (ए. बी. रोड) का बायपास निर्माण है, जो कि विगत् कई दशकों से संभव ही नहीं हो पा रहा है । चेम्बर ऑफ कॉमर्स द्वारा पुरजोर माँग की गई है कि सोन चिड़िया अभ्यारण के क्षेत्रफल को कम किए जाने संबंधी पूर्व में लिए गए नीतिगत निर्णय का शीघ्रातिशीघ्र नोटिफिकेशन जारी किया जाए, ताकि ग्वालियर के समग्र आर्थिक विकास को गति मिल सके ।

#बधाईग्वालियर चेम्बर की बहुप्रतीक्षित मांग पूरी अहमदाबाद के लिए ग्वालियर से पहली ट्रेन आगरा अहमदाबाद आएगी तीन दिन ग्वालियर चेम्बर की मांग पर ग्वालियर के सांसद और केंद्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह जी तोमर की मौजूदगी रेल राज्य मंत्री श्री मनोज सिंहा जी ने चेम्बर आगमन पर 27 फरवरी 2016 को दिया था आश्वासन कुछ दिन पहले ही हमारे सांसद और केंद्रीय मंत्री श्री नरेंद सिंह जी ने इस संबंध में रेलमंत्री श्री पीयूष गोयल जी से मुलाकात चेम्बर ने किया केंद्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह जी तोमर सहित रेलमंत्री श्री पीयूष जी गोयल ओर रेल राज्यमंत्री श्री मनोज सिंहा जी का आभार व्यक्त संभावित शेड्यूल प्रत्येक बुधवार शनिवार रविवार ग्वालियर से प्रारम्भ होगी प्रत्येक मंगलवार शुक्रवार शनिवार को अहमदाबाद से चलकर ग्वालियर पहुचेंगी ग्वालियर से रात्रि 8 बजे चलकर दूसरे दिन 1.40 बजे अहमदाबाद पहुंचेगी अहमदाबाद से शाम 4.55 बजे चलकर दूसरे दिन 10.20 मिनिट पर ग्वालियर पहुचेंगी

जानवरो की सहायता से चलने वाले साधन जिसमे माल या सवारी ले जाई जाती है भीषण गर्मी को देखते हुए कलेक्टर ग्वालियर ने 12 से 4 बजे तक पशुयों के उपयोग के साथ साधनों पर लगाई रोक

Contact us.

Please provide All the Mandatory Details !!
Successfully Saved Your Response !!
 

Phone .

+91-7512382917
+91-7512632916
+91-7512371691

Address .

Madhya Pradesh Chamber of Commerce & Industries , Chamber Bhawan , SDM Road, Gwalior (MP)

E-mail .

info@mpcci.com
pro@mpcci.com